अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड

Why Do You Need to Buy a House in 2022?

आर्केड अपने आपमें एक छोटी दुनिया प्रस्तुत करते हैं, जहाँ इस समय सबसे मूल्यवान दुकानें मौजूद हैं, और इस्तांबुल में सिनेमा और रंगमंच स्थलों को शामिल करते हैं, और ये इस्तांबुल के इतिहास से विरासत में मिले हैं और शहरी जीवन की नयी गतिविधियों को अपनाते हैं।

इस्तांबुल में आर्केड पहली बार 18वीं शताब्दी में दिखाई दिए थे और उन जगहों में से एक बन गए थे जहाँ गर्मागर्म चाय और दोस्ताना बातचीत करने की इच्छा रखने वाले लोग आते थे। इस्तांबुल के आर्केड के पतले फाटक से होते हुए, जो सदियों से खड़े रहने में कामयाब रहे हैं, हम अपने रास्ते पर आगे बढ़ते हैं, जहाँ युवा लोग और पर्यटक छोटे कैफे और दुकानों में चाय पीने, किताबों की दुकानों में, संगीत की दुकानों में, उपहार की दुकानों में और पुराने सामान के दुकानों में अक्सर आते रहते हैं। 

एक जर्मन साहित्यिक आलोचक, विचारक, सांस्कृतिक इतिहासकार और सौंदर्यवादी सिद्धांतकार, वॉल्टर बेंजामिन न केवल शहर के खरीदारी केंद्रों के रूप में आर्केड का उल्लेख करते हैं, बल्कि इन्हें ऐसे स्थानों के रूप में भी बताते हैं जहाँ बुद्धिजीवी बातचीत करते हैं और सांस्कृतिक मुलाकातें होती हैं और ये आर्केड अपनी वास्तुकला की शैलियों के साथ उभरकर सामने आते हैं। "आर्केड, औद्योगिक लक्ज़री का एक नया आविष्कार, संगमरमर बिछे हुए रास्ते हैं जो शीशे से ढंके हुए इमारत के समूह से गुजरते हैं; इस प्रकार की परिकल्पना के बीच इमारत के मालिक आपस में समझौता कर चुके हैं। इन आर्केड के दोनों ओर सबसे सुंदर दुकानें स्थित हैं जो ऊपर से प्रकाश पाती हैं; इसलिए इस तरह के स्थान अपने आपमें एक शहर हैं, और एक छोटी दुनिया की तरह हैं।"

18वीं शताब्दी में इन स्थानों के बारे में वॉल्टर बेंजामिन का वर्णन दुनिया में धीरे-धीरे व्यापक हो गया, और पश्चिम के सामने स्थित उस्मानी साम्राज्य का स्वरुप, इस्तांबुल, इससे अपना हिस्सा लेता है। इस वास्तुकला की प्रवृत्ति से प्रभावित होकर, इस्तांबुल का इस्तिकलाल मार्ग, आर्केड का स्वर्ग बन गया है। 

हज़्ज़ापुलो आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image1

इस्तिकलाल मार्ग पर स्थित हज़्ज़ापुलो आर्केड उस समय ला तुर्की समाचारपत्र की हेडलाइन बन गया था, जब बहुत ज्यादा किराये के बावजूद इसकी सारी दुकानें किराये पर दे दी गयी थीं। उस समय, जब इसे खोला गया था, इस आर्केड में इबरत समाचारपत्र भी स्थापित था, जिसे नामिक केमल द्वारा प्रकाशित किया जाता था, जो तुर्की राष्ट्रवाद के अग्रदूतों में से एक, पत्रकार, राजनेता, प्रसिद्ध लेखक और कवि थे और यहाँ सैल एडम स्टोर लोकप्रिय था और वाद्य प्रदर्शन किया जाता था। इसलिए, हज़्ज़ापुलो आर्केड, जिसे एक दीर्घकालिक सुविधाजनक स्थान के रूप में जाना जाता है, एक ऐसी जगह के रूप में सबसे अलग दिखाई देता है जहाँ आजकल साहित्यिक साक्षात्कार किए जाते हैं, दाएं और बाएं तरफ चांदी के सामान हैं, हर तरफ रंगीन पत्थर के डिजाइन हैं और बैकगॉन की ध्वनियों के साथ बातचीत की जाती है।

एटलस आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image2

निश्चित रूप से इस्तांबुल के सबसे मशहूर आर्केड में से एक एटलस आर्केड है। 1870 में स्थापित, इस मार्ग को सर्दियों के महीनों के दौरान घर के रूप में प्रयोग करने के लिए पत्थर और कच्चे लोहे से स्थापित किया गया था और इसके बाद यह सांस्कृतिक जीवन के मनोरंजन और कला केंद्रों में से एक बन गया। 1948 में, 1860 लोगों और 35 लॉज की क्षमता के साथ, इस आर्केड में एटलस सिनेमा स्थित है, जो बेयोलू के सबसे बड़े सिनेमा में से एक है, जिसे कुचुक साहनी थिएटर के नाम से 1951 में खोला गया था। वर्तमान में, यहाँ सेफहाथने स्थित है, जो मार्ग के प्रवेशद्वार पर कला प्रेमियों के लिए मुलाकात का स्थान है।

हालेप आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image3

अलेप्पो के एक व्यापारी एम. हैकर द्वारा 1885 में निर्मित यह आर्केड पेरा सर्कस आयोजित करता है, जो अपने शुरूआती सालों में जानवरों के शो प्रदर्शित करता था। 1900 के दशक की शुरुआत में, इस्तिकलाल स्ट्रीट पर आग से सारे मार्ग नष्ट हो गए, जिसमें अलेप्पो मार्ग भी क्षतिग्रस्त हो गया और सर्कस को पुनर्स्थापित किया गया और इसकी जगह थिएटर बिल्डिंग का निर्माण किया गया। शुरूआती वर्षों में इस थिएटर का नाम फ्रेंच थिएटर था। 1942 से, संगीतकारों, सिनेमा और थिएटर कलाकारों की मेजबानी करने वाली इमारत के प्रवेशद्वार पर, अभी भी एक शिलालेख मौजूद है जिसपर लैटिन और अरबी अक्षरों में "1885 अलेप्पो बाज़ार" लिखा हुआ है। 

रुमेलिया आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image4

इस्तिकलाल मार्ग में तीन आर्केड, सराइका रागीप पाशा द्वारा बनाये गए थे, जो अब्दुल हमीद द्वितीय (उस्मानी सुल्तान) के स्मारक थे। इस्तांबुल में अचल संपत्ति में निवेश करने के लिए, पाशा ने बेयोलू में रुमेलिया आर्केड, अनातोलियन आर्केड और अफ्रीकी आर्केड का निर्माण किया, जहाँ लेवेंटिन रहते हैं, और उन्होंने इसे उस्मानी साम्राज्य के क्षेत्रों को समर्पित कर दिया। अनातोलियन और रुमेलिया आर्केड आज भी प्रयोग में हैं। इतालवी शैली की पांच मंजिला राजगीरी संरचना के रूप में तैयार किए गए, अनडोलू आर्केड की निचली मंजिल पर 17 दुकानें और ऊपरी मंजिल पर 20 घर हैं, जबकि यह मार्ग 830 वर्गमीटर के क्षेत्र में स्थित है। अभिनेताओं के सबसे महत्वपूर्ण भागों में से एक, ऐक्टर्स थिएटर कॉफ़ी अभी भी इस इमारत में स्थित है। रुमेलिया, ओगूट और मायची मार्गों के अंत में बार स्थित हैं जो आपका स्वागत करते हैं। रुमेलिया आर्केड, जहाँ तुर्की कम्युनिस्ट पार्टी स्थित है और जहाँ इसके सदस्य हमेशा जाते रहते हैं, वास्तुकला प्रेमियों और तस्वीरें लेने के इच्छुक लोगों के बीच एक लोकप्रिय स्थान है।

अफ्रीकी आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image5

यह आर्केड इस्तिकलाल मार्ग पर स्थित नहीं है, यह मार्ग कुचुकपरमाकपी और बुयुकपरमारकपी के बीच एक पुल के रूप में काम करता है और इसकी मरम्मत जारी है। आवासीय प्रयोजनों के लिए प्रयोग किये जाने वाले इस मार्ग में कभी महंगे कपड़ों की दुकानें हुआ करती थीं।

अज़नवुर आर्केड

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image6

अज़नवुर आर्केड का निर्माण 1900 के दशक की शुरुआत में हुआ था, जहाँ की दुकानों के मूल्य तुर्की में उच्चतम स्तर तक पहुँच चुके हैं। इस आर्केड को इस्तिकलाल मार्ग के सबसे लोकप्रिय आर्केड में से एक के रूप में जाना जाता है, जिसे 1994 में इसका मूल स्वरुप बरकरार रखते हुए बहाल किया गया था। यह मार्ग उन केंद्रों में से एक है जहाँ पर्यटक व्यापक रूप से पारंपरिक तुर्की मोटिफ से सजाए गए सामानों की खरीदारी करते हैं, और ऊपरी मंजिल पर जाने पर यहाँ एक छोटा चाय का बागान भी है जहाँ आप खरीदारी से थकने के बाद बैठकर आराम कर सकते हैं।

चिचेक आर्केड 

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image7

चिचेक आर्केड, जिसे अपनी निर्माण की अवधि के दौरान सीटे दे पेरा के नाम से जाना जाता था, अपनी वास्तुकला को आगे बढ़ाने के कारण इस्तांबुल में 18वीं शताब्दी में स्थापित मार्गों के बीच सबसे प्रसिद्ध आर्केड के रूप में जाना जाता है। इस स्थान को पहले आवासीय क्षेत्र के रूप में प्रयोग किया जाता था, जिसे आग लगने के बाद दोबारा ठीक किया गया था। हालाँकि, रेस्टोरेंट के कारण आर्केड का असली स्वरुप इतना अधिक दिखाई नहीं देता है, लेकिन जब इसे 1876 में खोला गया था, तब इसके भूतल पर 20 दुकानें थीं जो शानदार पेरिसियन वास्तुकला को दर्शाती हैं, और तीन मंजिलों पर 18 अपार्टमेंट थे। यह आर्केड, जो इस्तांबुल में रहने वाले विदेशियों के रहने की पसंदीदा जगहों में से एक है, उस्मानी साम्राज्य के दौरान अपने सबसे शानदार दौर से गुजरा था। वर्तमान में, यह मार्ग अपने मध्य गुम्बद के साथ अपने नए पर्यटकों का इंतज़ार कर रहा है, जो एक ऐसी जगह बन गया है जहाँ सभी उम्र और विचारधारा वाले लोग आकर आनंददायक समय बिताते हैं।

असलिहन आर्केड

अपने आपमें इस्तांबुल की छोटी दुनिया; आर्केड image8

इस आर्केड में पुरानी किताबों की खुश्बू के साथ अब पुराने सामानों की दुकानें मौजूद है, जो अपनी दो मंजिला और टेढ़ी-मेढ़ी वास्तुकला के साथ सबसे अलग दिखाई देता है। इस मार्ग में हास्य पुस्तकों से लेकर क्लासिक्स तक, साहित्यिक कार्यों से लेकर कला पुस्तकों तक, सभी प्रकार और भाषाओं की किताबें और पत्रिकाएं मौजूद हैं, और इसे इस्तांबुल के सांस्कृतिक स्थलों में से एक माना जाता है।

पुराने समय में इस्तांबुल की भावना के अनुरूप, दो मार्गों को जोड़ने वाले आर्केड को तुर्की के पहले खरीदारी केंद्रों में से एक माना जाता था। ये स्थान जो केवल यहाँ वर्णित स्थानों तक सीमित नहीं हैं, आज के समय के शॉपिंग मॉल से कहीं ज्यादा स्वागतपूर्ण और अंतरंग होते हैं। अल्हमरा आर्केड, टेर्कोस आर्केड, बेयोलू आर्केड, सीरिया आर्केड, मिरर्ड आर्केड, टनल आर्केड, मार्क्वेज आर्केड, टोकाटालियन आर्केड, राष्ट्रीय आश्वासन आर्केड, अकमर आर्केड, दोगुबैंक आर्केड, बहारिए कोकेशस आर्केड भी मौजूद हैं


Properties
Trem Global Logo
1
Footer Contact Bar Image
Whatsapp contact gif for mobile