तुर्की के तकनीक विकास का आधार: टेक्नोसिटीज़

तुर्की के तकनीक विकास का आधार: टेक्नोसिटीज़

तुर्की में मूल्य-वर्धित उत्पादों के उत्पादन और तुर्की की तकनीक में गतिशीलता लाने के उद्देश्य से स्थापित की गयी टेक्नोसिटीज़ की संख्या में विश्वविद्यालय उद्योग के सहयोग से वृद्धि हो रही हैं। टेक्नोसिटीज़ के लिए अनुदान और प्रोत्साहनों को 4 बिलियन डॉलर तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है, जिन्होंने आज तक 4 बिलियन डॉलर का निर्यात किया है।

विज्ञान, उद्योग और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, जिसने प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों के रूप में जानी जाने वाली टेक्नोसिटीज़ को संख्या को बढ़ाने के लिए अपनी पहलों और निवेशों में वृद्धि की है, 2023 तक टेक्नोसिटीज़ की संख्या 84 से 105 तक, पेटेंटों की संख्या 2500 तक, और अनुदान एवं प्रोत्साहन सहयोगों को कम से कम $4 बिलियन तक करने का लक्ष्य रखता है। टेक्नोसिटीज़ के साथ तुर्की की अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी, और प्रौद्योगिकी के उपयोग और प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण के अलावा, तुर्की के अनुसंधान और विकास और नवाचार, पारिस्थितिकी तंत्र में प्रौद्योगिकी का विकास, निर्यात करने वाला देश बनने की उम्मीद है।

विश्वविद्यालय-उद्योग सहयोग

प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों के साथ, जहाँ विश्वविद्यालय, जो नवाचार में नवीन सूचना उत्पादन के केंद्र हैं, औद्योगिक संगठनों के साथ मिलते हैं, अकादमिक रूप से उत्पादित जानकारी को वाणिज्यिक उत्पादों में बदलने, प्रौद्योगिकी-उन्मुख स्टार्ट-अप कंपनियों की उद्भवन अवधि को पूरा करने, और अनुदानों और सहयोग से कंपनियों के विकास को प्रोत्साहित करने, और राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के लिए अन्य कंपनियों और सिनर्जी को लक्ष्य बनाया गया है। तुर्की 2001 के बाद महत्वपूर्ण विकास करके और टेक्नोसिटीज़ की संख्या में दो से 84 की वृद्धि करके, 5,219 कंपनियों के अनुसंधान और विकास गतिविधियों को दिशा देकर और 50 हजार आरएंडडी कर्मियों के रोजगार को सुनिश्चित करके क्षेत्र में नवाचार प्रौद्योगिकी का केंद्र बनने का उद्देश्य रखता है, जिसका प्रौद्योगिकी के मामले में अन्य देशों की तुलना में संक्षिप्त इतिहास रहा है।

टेक्नोसिटीज़ जो मध्यम-उच्च और उच्च-तकनीकी उत्पादों का विकास करते हैं, उनका उपयोग विश्वविद्यालयों या संगठित औद्योगिक क्षेत्रों में किया जाता है; जो सॉफ्टवेयर, सूचना विज्ञान, मशीनरी-उपकरण, ऊर्जा, इलेक्ट्रॉनिक्स, रासायनिक और रक्षा क्षेत्रों में उत्पाद बनाते हैं। 

सबसे अच्छी टेक्नोसिटीज़; आईटीयू, एमईटीयू, साइबरबैंक एमईटीयू टेक्नोपॉलिस, आईटीयू अरी टेक्नोसिटी और साइबरपार्क सबसे सफल प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों में से एक हैं, जिन्हें उस क्रांतिकारी विकास के लिए तैयार किया गया है जो तकनीक लाएगी। देश की औद्योगीकरण नीति, प्रौद्योगिकी और नवाचार के लिए एकीकृत पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए टेक्नोसिटीज़ को राजनीतिक शक्ति का समर्थन भी मिलता है, जो तुर्की की प्रतिस्पर्धा और प्रौद्योगिकी में योगदान करते हैं। यह ज्ञात है कि आईटीयू अरी टेक्नोसिटी के पास यूरोप का दूसरा सबसे अच्छा इनक्यूबेशन सेंटर है और यह दुनिया में तीसरा सबसे अच्छा इनक्यूबेटर केंद्र है।

पहले, जहाँ ज्यादातर कंपनियां ज्यादा कर प्रोत्साहन पाने के लिए प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों में निवेश करना पसंद करती थीं, वहीं, अब, कंपनियां समृद्ध परिवेश, अनुसंधान और विकास परामर्श, प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, और विश्वविद्यालयों के साथ करीबी सहयोग के लिए प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों में व्यवसाय स्थापित कर रही हैं।

यह ज्ञात है कि टेक्नोसिटी में निर्मित कार्यकारी परिस्थितियां कर्मचारियों की लाभप्रदता, सफलता और प्रसन्नता को भी प्रभावित करती हैं। तुर्की के प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों में विदेशी और घरेलू निवेशक दोनों आते हैं, इससे, वो अपना ग्राहक पोर्टफोलियो बनाते हैं और नयी सहकारिता की स्थापना करते हैं। इस संबंध में अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में प्रवेश करना, कंपनियों की सबसे बड़ी उम्मीद होती है। ये केंद्र किसी योजना का व्यावसायीकरण करना और अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में प्रतिस्पर्धा करना सिखाते हैं। यूएस की सिलिकॉन वैली में एक इनक्यूबेशन सेंटर खोलने के लिए कंपनियों की मदद भी की जा रही है।

विशेषीकृत टेक्नोसिटीज़ तुर्की में विशेषीकृत टेक्नोसिटी मॉडल के साथ एक या दो क्षेत्रों में काम करने वाले उद्यमियों को निवेश में सहयोग भी प्रदान किया जाता है। इज़मिर में डोकुज एय्युल स्वास्थ्य विशेषीकृत प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्र, जिसे आरएंडडी सुधार पैकेज जारी होने के बाद यह घोषित किया गया था, तुर्की की पहली विशेषीकृत टेक्नोसिटी है जिसे स्वास्थ्य क्षेत्र में अनुसंधान और विकास करने के लिए कंपनियों के लिए निर्धारित किया गया है। दूसरी विशेषीकृत टेक्नोसिटी को विषयगत प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्रों के रूप में जाना जाता है, जहाँ इस क्षेत्र समूह के अंदर समान क्षेत्र समूह और उप-क्षेत्रों में काम करने वाले उद्यमी मर्सिन कृषि और खाद्य विशेषीकृत प्रौद्योगिकी विकास क्षेत्र जैसे कृषि क्षेत्र में शोध और विकास में संलग्न रहते हैं।

तुर्की की सिलिकॉन वैली

तुर्की की पहली विषयगत टेक्नोसिटी, सिलिकॉन वैली, 3.5 मिलियन वर्ग मीटर के क्षेत्र में स्थापित की गयी है, जो देश की लक्ष्य परियोजनाओं में और राष्ट्रीय रणनीति दस्तावेज़ों में है। वैली में संचार प्रौद्योगिकियों, परिवहन प्रौद्योगिकियों, वित्तीय प्रौद्योगिकियों और साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास किया जा रहा है। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी गतिविधि के साथ, वैली से पारिस्थितिकी तंत्र में एक लाभकारी भूमिका निभाने की उम्मीद की जा रही है। इस तरह, वैश्विक और स्थानीय नवाचार, प्रौद्योगिकी हस्तांतरण केंद्र, विश्वविद्यालय, अनुसंधान संस्थान, अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय निवेशक और वित्त, सभी गैर-सरकारी संगठन, संयुक्त प्रयास वाले प्रौद्योगिकी-आधारित विकास का नेतृत्व करने का लक्ष्य रखते हैं।

जहाँ स्मार्ट सिटीज रिसर्च लेबोरेटरी कोऑपरेशन प्रोटोकॉल को हुआवेई और वैली के बीच हस्ताक्षरित किया गया था, वहीं चीनी प्रौद्योगिकी की दिग्गज कंपनी हुआवेई आर एंड डी टीम की स्थापना करेगी और आईटी वैली के साथ संयुक्त समाधान विकसित करेगी। यहाँ नियुक्त किये जाने वाले शोधकर्ताओं और इंजीनियरों से नयी तकनीकी सफलताओं में सबसे आगे होने की उम्मीद की जा रही है और ऐसा अनुमान है कि निर्माण का पहला चरण पूरा होने पर 2 हज़ार लोगों को और सभी चरण पूरे होने पर लगभग 100 हज़ार योग्य लोगों को नौकरियां और रोजगार प्रदान किये जायेंगे। सिलिकॉन वैली उन केंद्रों में सबसे पहला होगा जो तुर्की की शक्ति बढ़ाने के लिए विज्ञान को प्रौद्योगिकी में और प्रौद्योगिकी को उत्पाद में परिवर्तित करेगा और उच्च मूल्य-वर्धित उत्पादों और नयी प्रौद्योगिकियों का उत्पादन करेगा। वित्तीय सहायता और निवेशक नेटवर्क के साथ पारिस्थितिकी तंत्र के पूरा होने के साथ, इसका लक्ष्य 5,000 आरएंडडी और सॉफ्टवेयर कंपनियों की मेजबानी करके 50 बिलियन डॉलर का मुनाफा कमाना है।

  • राज्य गारंटी परियोजनाएं
  • कानून और निवेश परामर्श
  • निजीकृत निवेश समाधान
  • बिक्री के बाद सेवा की उच्च गुणवत्ता
  • निवेशकों के लिए विशेष पैकेज
  • 3 महीने के भीतर तुर्की पासपोर्ट
1