Trem Global Contact Phone
कॉल सेंटर +90 535 343 86 25

2023 के लिए तुर्की के लक्ष्य: अंतर्राष्ट्रीय वित्त केंद्र के रूप में इस्तांबुल

2023 के लिए तुर्की के लक्ष्य: अंतर्राष्ट्रीय वित्त केंद्र के रूप में इस्तांबुल

2023 में, तुर्की गणराज्य, निर्यात लक्ष्य, तकनीकी निवेश, सुरक्षा और ऊर्जा आपूर्ति उद्योग जैसे कई क्षेत्रों में प्रगति करना चाहता है। क्रय शक्ति समता के अनुसार, दुनिया की 13वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था, तुर्की, को जी-20 देशों में से भू-अर्थव्यवस्था में सबसे महत्वपूर्ण देशों में से एक माना जाता है। 2023 में, तुर्की का उद्देश्य निवेश और मेगा-परियोजनाओं द्वारा संचालित तुर्की की चौथी औद्योगिक क्रांति के माध्यम से संस्थागत क्षमता विकसित करके दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनना है।

2023 में निर्यात लक्ष्य 500 बिलियन डॉलर है

2023 में, तुर्की, वार्षिक सकल घरेलू उत्पाद 2 ट्रिलियन तक बढ़ाने का लक्ष्य रखता है, जबकि निर्यात का लक्ष्य $500 बिलियन तक रखा गया है। यह देश, जिसने हाल के वर्षों में आर्थिक संरचना में संरचनात्मक सुधारों को बहुत महत्व दिया है, पशुपालन, कृषि, परिवहन, ऊर्जा, स्वास्थ्य और संचार जैसे विभागों में महत्वपूर्ण निवेश और नवाचार कर रहा है। इस तरह, आर्थिक संरचना में संस्थागत क्षमता विकसित और मजबूत होती है, और आर्थिक प्रणाली दुनिया में आने वाले जोखिमों के प्रति ज्यादा प्रतिरोधी हो जाती है।

2008 में, वैश्विक आर्थिक संकट के कारण तुर्की की अर्थव्यवस्था हिल गयी थी और दबाव महसूस कर रही थी, जिसने दुनिया को हिला दिया और 2009 में अर्थव्यवस्थाओं को संकुचित कर दिया था। इसके बाद के वर्षों में, आर्थिक संरचना 9.2 प्रतिशत और 8.5 प्रतिशत की दर से बढ़ी, प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद 2002 में 3.492 डॉलर था और 2014 में यह बढ़कर 10.404 डॉलर हो गया। मेगा परियोजनाओं को लाने के साथ प्रति व्यक्ति राष्ट्रीय आय का इस क्षेत्र पर सकारात्मक प्रभाव पड़ने की उम्मीद है, जिसके 11वीं विकास योजना में प्रति व्यक्ति राष्ट्रीय आय 12,244 डॉलर तक बढ़ने की उम्मीद है, जबकि इस्तांबुल अपने क्षेत्र में वित्त का केंद्र बनने की उम्मीद कर रहा है, जो यूरोप, यूरेशिया और मध्य पूर्व के त्रिकोण पर स्थित है। इसका आधार यह है कि निवेशक इस्तांबुल के नए हवाई अड्डे के प्रयोग से 2 घंटे से कम की उड़ान दूरी तय करके 22 राजधानी शहरों में पहुँच सकते हैं और 400 गंतव्यों तक जा सकते हैं, जो दुनिया के सबसे बड़े हवाई अड्डों में से एक है।

दुनिया का प्रवेशद्वार, तुर्की

हाल में हुए आर्थिक और संरचनात्मक सुधारों ने तुर्की के बैंकिंग क्षेत्र को जोखिमों के लिए तैयार किया है और दुनिया में इसकी लाभप्रद स्थिति को मजबूत बनाया है। तुर्की में कम से कम 250,000 अमेरिकी डॉलर का घर, कार्यस्थल भूमि और अन्य संपत्ति खरीदने वाले विदेशी निवेशकों को यूरोप, मध्य पूर्व, उत्तरी अफ्रीका और एशिया पहुँचने योग्य तुर्की की भू-राजनीतिक स्थिति का लाभ उठाने के लिए एक उपयुक्त कानूनी संरचना तैयार करने के लिए प्रदान किये गए प्रोत्साहनों के साथ तुर्की की नागरिकता मिलती है।

वित्त का केंद्र: इस्तांबुल

इस्तांबुल शायद तुर्की की अर्थव्यवस्था में सबसे महत्वपूर्ण शहर है, जिसे ऊर्जा, परिवहन और सार्वजनिक निवेश के मामले में पहला स्थान प्राप्त है। मरमराय, नया हवाई अड्डा, इस्तांबुल 3 पुल, नहर इस्तांबुल परियोजना और यूरेशिया सुरंग जैसी परियोजनाओं को पूरा करने के बाद, आयात और निर्यात दोनों में तुर्की का प्रवेशद्वार शहर होने के नाते, इस्तांबुल को इस क्षेत्र में वित्त का केंद्र माना जाता है।

भले ही 2023 के लिए तुर्की के लक्ष्य महत्वाकांक्षी और बहुत बड़े प्रतीत होते हैं, लेकिन 30 साल से कम की कम से कम आधी आबादी, प्रौद्योगिकी-उन्मुख निवेश और प्रदर्शन आधारित संस्थागत क्षमता निवेश और स्वामित्व वाली आर्थिक क्षमता की गतिशीलता और ब्याज मुक्त निवेश वाहनों में विविधता के साथ, तुर्की विशेष रूप से क्षेत्र में खाड़ी क्षेत्रों को आकर्षित करके 2023 तक अपने लक्ष्यों तक पहुँचने की उम्मीद कर रहा है।

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय केंद्र में इस्तांबुल को स्थापित करने का 2023 का लक्ष्य रखने वाले, तुर्की में ऐतिहासिक और सांस्कृतिक क्षमता भी मौजूद है। तुर्की के साथ ऐतिहासिक और सांस्कृतिक निकटता रखने वाले निवेशकों के पास, साझेदारियां स्थापित करके तुर्की में तुर्की कंपनियों के साथ अनुबंध में प्रवेश करने का मौका है।

ऐसा अनुमान लगाया गया है कि ऐतिहासिक पृष्ठभूमि वाला, इस्तांबुल, क्षेत्र के वित्तीय केंद्र के रूप में अपने निवेशकों का मूल्य बढ़ा देगा, और इस्तांबुल में रहने वाला हर व्यक्ति इस उत्पादन प्रणाली का हिस्सा होगा और अगर मानव आदर्शों पर केंद्रित वित्तीय प्रणाली स्थापित नहीं होने वाली है तो इस्तांबुल इसे खुद साकार करेगा, जिसे मानवता की राजधानी माना जाता है। इस उद्देश्य के लिए, यह शहर कई वैश्विक वित्त शिखर सम्मेलनों और सीईओ बैठकों की मेजबानी करता है और वैश्विक वित्तीय केंद्र बनने के अपने लक्ष्य के एक कदम और करीब है।

स्थापना मॉडल, जो दुनिया की सबसे प्रसिद्ध निधि प्रणालियों में से एक है, का जन्म और विकास इस्तांबुल में हुआ था और इसे इस अंतरमहाद्वीपीय शहर की पुरानी विरासतों में से एक माना जाता है। इस्तांबुल एआई, वीआर, डिजिटल वॉयस रिकग्निशन और डिजिटल एन्क्रिप्शन जैसे मोबाइल प्लेटफार्मों के साथ सुसंगत वैश्विक वित्तीय प्रौद्योगिकियों में निवेश कर रहा है, जो वैश्विक स्तर पर सारी मानवता के लिए अपनी 700-वर्ष की सफलता की कहानी स्थानांतरित करने की उम्मीद कर रहा है। सांस्कृतिक वैश्विक केंद्र होने के अलावा, इस्तांबुल के वित्तीय केंद्र बनने के भी महत्वपूर्ण लाभ प्रतीत होते हैफिच रेटिंग विश्लेषकों का अनुमान है कि अगले 5 वर्षों के लिए तुर्की औसतन 48% विकास करेगा। दुनिया के अन्य देशों की तुलना में देश में बैंकिंग प्रणाली में काम करने वाले लोगों की गुणवत्ता और तकनीकी आधारभूत संरचना भी कई क्षेत्रों में आगे है। 2023 में तुर्की को दुनिया की 10 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनाने के लिए, पुलों, अस्पतालों, परमाणु ऊर्जा संयंत्रों जैसी नयी बुनियादी संरचना परियोजनाएं बनाने के लिए बैंकिंग क्षेत्र का समर्थन मिलने की उम्मीद है। माइक्रोसॉफ्ट के शोध के अनुसार, डिजिटिकरण के नाम के अंतर्गत तुर्की की पूंजी कंपनियों की दुनिया में अच्छी रैंकिंग है। तुर्की में ग्राहकों का एक बड़ा वर्ग सोशल मीडिया के माध्यम से खरीदारी साइटों तक पहुँचता है और 3 में से 1 लोग ऑनलाइन खरीदारी का प्रयोग करते हैं। तुर्की संचार प्रौद्योगिकी और उत्पादक देश की नयी पीढ़ी को विकसित करने के लिए अपने लक्ष्य के एक कदम और करीब है, जो अब 5G तक पहुँचने वाले पहले देशों में से एक है।

अर्थशास्त्री क्या कहते हैं?

विश्व प्रसिद्ध वित्त प्रोफेसर, नूरील रौबिनी का कहना है कि भविष्य में इस्तांबुल वित्त, संस्कृति और कला का शहर बन जाएगा और अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

जेपी मॉर्गन के महाप्रबंधक माइकल मार्रिस ने कहा कि दुनिया में दो सबसे महत्वपूर्ण वित्तीय केंद्र लंदन और न्यूयॉर्क हैं। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि, "जेपी मॉर्गन के रूप में, हम मानते हैं कि इस्तांबुल एक बहुत ही महत्वपूर्ण वित्तीय केंद्र है। हमें लगता है कि इस्तांबुल को वित्तीय केंद्र में बदलने के लिए उठाया गया हर कदम बहुत महत्वपूर्ण है।''

यह देखते हुए कि वैश्विक वित्तीय केंद्र बनने में तुर्की की भौगोलिक स्थिति की महत्वपूर्ण भूमिका है, विश्व बैंक तुर्की निदेशक मार्टिन रायसर का कहना है कि ''तुर्की का करंट अकाउंट डेफिसिट घट रहा है, यह अच्छी खबर है। मुझे लगता है कि मौजूदा घाटे को कम करने के लिए निजी पेंशन प्रणाली में सुधार के लिए सरकार के प्रयास सकारात्मक हैं”। रायसर ने 10 साल पहले की तुलना में तुर्की के ज्यादा निवेश आकर्षित करने का जिक्र करते हुए कहा कि, ''एक अच्छे साल में तुर्की को विदेशी निवेश में 20 बिलियन डॉलर का फायदा होता है, एक बुरे साल में उसे 10 बिलियन डॉलर का फायदा होगा। तुर्की में विदेशी निवेश आकर्षित करना इस्तांबुल के वित्तीय केंद्र बनने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।"मैकेंजी एंड कंपनी के मध्य पूर्व के क्षेत्रीय अध्यक्ष हैंस मार्टिन स्टॉकमेइर ने कहा कि वह आठ साल तक इस्तांबुल और दुबई में रहे हैं और उन्हें लगता है कि लेबनान के माहौल का फायदा उठाकर दुबई थोड़े समय में एक वित्तीय केंद्र बन गया है और इस्तांबुल के पास भी वैश्विक वित्तीय केंद्र बनने का एक अच्छा मौका है। साथ ही, उन्होंने यह कहते हुए तुर्की के विविध व्यापार बाज़ारों के बारे में बात की कि 90 के दशक में, तुर्की के निर्यातकों को मध्य पूर्व में नहीं जोड़ा जाता था, वो केवल यूरोप में केंद्रित थे। लेकिन अब, खाड़ी देशों और मध्य पूर्व की ओर उभरते बाज़ार इस्तांबुल को वित्तीय केंद्र बनाने में प्रमुख भूमिका निभाएंगे।

  • राज्य गारंटी परियोजनाएं
  • कानून और निवेश परामर्श
  • निजीकृत निवेश समाधान
  • बिक्री के बाद सेवा की उच्च गुणवत्ता
  • निवेशकों के लिए विशेष पैकेज
  • 3 महीने के भीतर तुर्की पासपोर्ट
Trem Global Whatsapp अब हमें व्हाट्सएप पर संपर्क करें!